क्रिस्टियानो रोनाल्डो की प्रेरणादायक कहानी| christano ronaldo life story

 क्रिस्टियानो रोनाल्डो की प्रेरणादायक कहानी| christano ronaldo life story

 क्रिस्टियानो रोनाल्डो की प्रेरणादायक कहानी| christano ronaldo life story,bio ,ronaldo worldcup2018 ,ronaldo richest player,ronaldo  wiki
christiano ronaldo life story

आज मैं बात करने जा रहा हूं फुटबॉल के महान खिलाड़ी क्रिस्टियन रोनाल्डो के जो रियल मेड्रिड की तरफ से खेलते हैं और साथ ही साथ पुर्तगाल की राष्ट्रीय टीम के कप्तान भी हैं छोटे से शहर में इस बच्चे ने अपने दम पर ऐसा मुकाम हासिल कर दिया जहां पर पहुंचना हर एक लड़की का सपना होता है रोनाल्डो पर दौलत और शोहरत सब मेहरबान है और वह दुनिया के सबसे महंगे खिलाड़ी में शामिल है लेकिन रोनाल्डो को येह सब विरासत मै न्ही मिला वे कभी एक छोटे से घर में रहा करते थे वह कैसे फर्श से अर्श तक पहुंचे इसके पीछे उनका बहुत बड़ा संघर्ष है
क्रिस्टियानो रोनाल्डो का जन्म 5 फरवरी 1986 को फ्रांस के हंचल शहर में हुआ था रोनाल्डो का पूरा नाम क्रिस्टियानो रोनाल्डो डोस सेंटोस है
जो उसके पिता ने अमेरिका के 40 वें राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन के नाम पर रखा था रोनाल्डो के पिता एक नगरपालिका मै माली थे | रोनाल्डो का एक बडा भाई और उसकी दो बहनें भी है वह एक छोटे से टीन की छत वाले घर में रहते थे उनको बचपन से ही फुटबॉल खेलने का बहुत शौक था जिसके चलते उनको 8 साल की उम्र में ही उनके passion को देखते हुए उन्हें एंडोरीना स्पोर्ट्स क्लब में शामिल कर लिया गया

उनके मजाक का नाम cry baby है यह नाम उनकी मां ने दिया था क्योंकि जब वह मैदान में खेलते खेलते हार जाते थे या अच्छा नहीं कर पाते थे तो वह रोने लग जाते थे और इस तरह उनकी मां ने उसको cry baby पर भी कहना शुरू कर दिया आज भी उनके दोस्त मेदान मै कईं बार उन्हें cry baby कहकर बुलाते है 10 साल की उम्र में वह शहर के सबसे बड़े फुटबॉल क्लब necional फुटबॉल क्लब में शामिल हो गए यहां पर वे 2 साल के लिए खेले उसके बाद 1997 में वह पुर्तगाल के sporting club में ट्रायल के लिए गए जहां पर उनके खेल को देखते हुए क्लब ने उन्हें 1500 pound में साइन कर लिया येह क्लब उनके घर से काफी दूर था इसलिए उन्हे अपने परिवार को छोड़ कर यहां आना पड़ा यहां पर उन्होंने जी जान लगाकर पूरी मेहनत की

लेकिन तभी पता चला कि 15 साल की उम्र में उन्हें हार्ट प्रॉब्लम है और डॉक्टर ने उन्हें खेल खेलने और दौड़ने के लिए मना कर दिया तब उनके पास दो रास्ते थे या तो वह खेलना छोड़ दें या फिर एक बेहद ही खतरनाक सर्जरी करवा लें रोनाल्डो के लिए फुटबॉल छोड़ना आसान नहीं था क्योंकि वह उसके उसके पूरे दीवाने हो चुके थे इसलिए उन्होंने दूसरा फैसला लिया की वे अपने heart की सर्जरी करवाएंगे और सौभाग्य से यह सर्जरी सफल भी रहे कुछ दिनों के आराम के बाद में मैदान में दोबारा वापस आ गए और दोगुने जोश के साथ दोबारा खेलने लग गए


लेकिन तभी एक और बेहद खतरनाक मोड़ उनकी जिंदगी में आया जब उनके पिता 52 साल की उम्र में शराब पीने की लत के कारण उनकी मौत हो गई अपने पिता की मौत से वह बहुत दुखी हुए क्योंकि उनके सबसे करीब थे रोनाल्डो के पिता की मृत्यु के बाद उनके घर की हालत काफी खराब हो गई और उनकी मां को दूसरों के घर में बर्तन मांज कर अपने घर का गुजारा चलाना पड़ा
रोनाल्डो ने इन सभी मुसीबतों से ध्यान हटाते हुए अपनी प्रेक्टिस की तरफ ध्यान दिया उन्होंने अपना पहला बड़ा मैच 17 साल की उम्र में खेला यह मैच lisban club और यूनाइटेड मेन्चेस्टर के बीच खेला गया| और इसी मैच में alex ferguson ने रोनाल्डो को खेलते हुए देखा और यूनाइटेड मैनचेस्टर के लिए साइन कर लिया क्लब ने उन्हें साइन करने के लिए 17 मिलियन डॉलर चुकाए थे जो उस समय किसी भी युवा खिलाड़ी को चुकाई गई सबसे बडी धनराशि थी
वह उनके साथ 2009 तक 6 साल के लिए खेले उसके बाद रियल मेड्रिड ने 132 मिलियन डॉलर चुकाते हुए उन्हें अपनी टीम में ले लिया यह करार 2015 तक था लेकिन उसके बाद 2015 के बाद उन्होंने 2021 तक खेलने के लिए 1864 करोड रुपए की डील साइन की और इस deal के साथ वह दुनिया के सबसे अमीर खिलाड़ी बन गए
लेकिन कमाई के साथ साथ वे बहुत से charty भी करते हैं और भी बहुत सारे समाज भलाई के काम भी करते हैं वे साल में दो बार ब्लड डोनेशन भी करते हैं
दोस्तो क्रिस्टियन रोनाल्डो ने अपनी हार्ट की सर्जरी और पिता की मृत्यु के होने के बावजूद वे कभी नहीं आ रहे हैं और अपने हुनर के बल पर अपने आप को दुनिया के बेहतरीन खिलाड़ियों में शुमार कर लिया वे हमारी युवा पीढ़ी के लिए प्रेरणा दायक है उनसे से प्रेरणा लेकर यह सोचना है कि हमें भी अपनी जिंदगी में मैं कभी भी हार नहीं माननी चाहिए और हमेशा आगे बढ़ते रहना चाहिए
अगर अपको ये post अच्छी लगी तो इसे दूसरो के साथ भी शेयर करे |
#christanoronaldo
#worldcup2018
#purtgal
#motivational

No comments:

Theme images by 5ugarless. Powered by Blogger.