कमर दर्द का आसान ईलाज - Back pain treatment in hindi


Back pain treatment in hindi
Back pain treatment in hindi

Back pain एक वह स्थिति है जहां पर कमर के पिछ्ले हिस्से मै या उसके आस पास दर्द होता हे ओर कूछ स्थिति मै येह दर्द आपकी टांगो मैं भी जा चला जाता है ये दर्द सामान्य से लेकर असहनीय हो सक्ता है
आजकल Back pain सबसे बडी सवस्थ्य समस्या बनी हुई है बच्चों से लेकर बड़ों तक महिला हो या पुरष सभी को कमर दर्द कि शिकायत रह्ती है
मनुष्य की पीठ muscles ,ligaments, tendons, discs, और हड्डियों की एक जटिल संरचना से बनी है, जो body को help करने के लिए एक साथ काम करते हैं और हमें कुछ भी करने मै सक्षम रखते है ओर अगर इनमे से किसी मै भी कोई problem आ जाये तो ये हमारी कमर दर्द का कारण बनता है लेकिन कुछ स्थिति मै इसका कारण पता नही चलता |




Cause of pain-


अगर हमें back pain का सही से कारन पता होगा तभी हम सही तरीके से इसका इलाज कार सकते हैं ऐसे तो कमर दर्द के बहुत से कारण जिससे कमर मै दर्द होने लगता है लेकिन कुछ मुख्य कारन है निचे दिये है|


Strain (तनाव)- back muscles ओर ligaments में खिंचाव या तनाव हो जाने से भी दर्द शुरू हो जाता है

Slip disk - कई बार कोई दुर्घटना या सामान्य रूप से भी गिरने पर जो रीड मै छोटी छोटी गद्देदार डिस्क होती है जो रीड को झटको से बचाती है और इसे लचीला रखती है वह सुज ओर टूट कर बिखर जाती है जिससे की रीड मे से गुजरने वाली जो नर्व होती है वो press होने लग जाती है जिससे दर्द होता है

Posture -- लंबे समय तक कुर्सी पर बैठ कर काम करना गर्दन को झुका कर बैठना यां अधिक झुक कर काम करना लम्बे समय तक खडे रहना |

Infections - रीड की हडी में infection होने से भी back pain होता है , एसे बहुत से कारन है जिससे की रीड मे इन्फेक्शन हो जाती है जिसकी समय पर जांच होनी बहुत जरुरी है

Poor nutrition - अगर आप अपनी diet अच्छा तरीके से नहीं ले रहे हैं येह एक बड़ा कारण हो सकता है कमर दर्द का
आपकी diet मै विटामिन्स मिनरल्स ओर प्रोटीन सभी भरपुर मात्रा मैं होने चाहिए |

How to cure spine pain -

[1] सरसों या नारियल के तेल में लहसुन की 10-12 कलियॉ 5-6 लौंग ओर थोडी अजवाय्न डालकर (जब तक लहसुन की कलियां लाल न हो जायें) गर्म कर लें। ठंडा होने पर इस तेल को छान ले ओर इससे सुबह ओर रात को कमर की मालिश करें। इससे दर्द मै आराम मिलेगा

[2] शाम को हल्दी वाला दुध जरुर पिए ढूध मै केल्शियम ओर विटामिन होते है ओर हल्दी मै एंटीबायोटिक और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो की कमर दर्द मे बहुत लाभकारी होता है ओर कमर कि सोज ओर दर्द कम करते है |
[3] Calcium ओर vitamin d3 + magnesium tablets का इस्तेमाल करे आप किसी भी आच्छे ब्राण्ड की tab. Use कर सकते है क्योंकि केल्शियम ओर विटामिन d3 की कमी से भी कमर दर्द होता इसलिए इस supliment का इस्तेमाल जरुर करे इससे आपकी bones ओर muscles strong होंगे
[4] बेठ्ने का पोस्टर हमेशा ठीक रखिये ज्यादा देर ना तो बेठे ओर न ही खडे रहे | नर्म गद्देदार सीटों से परहेज करना चाहिए। कमर दर्द के रोगियों को थोड़ा सख्त बिस्तर बिछाकर सोना चाहिए।
[5] कमर दर्द के लिए व्यायाम भी करना चाहिए। सैर करना, तैरना या साइकिल चलाना सुरक्षित व्यायाम हैं। तैराकी जहां वजन तो कम करती है, वहीं यह कमर के लिए भी लाभकारी है। साइकिल चलाते समय कमर सीधी रखनी चाहिए। व्यायाम करने से मांसपेशियों को ताकत मिलेगी तथा वजन भी नहीं बढ़ेगा।

क्लिक करके देखे -असानी से कम करे पेट कि चर्बी

[6] अपने भोजन मै ज्यादा प्रोटीन युक्त पदार्थ जेसे अण्डे
मशली ,काले चने ,राज्माह, ब्रोकली आदि इस्तेमाल करे ,
[7] Vitamin c दर्द दूर करने मै बहुत कारगर है आमला ओर नीम्बू इनमे vitamin c भरपुर मात्रा मै होता है को रोजना इस्तेमाल करे |
[8] एक कप पानी में 8-10 तुलसी की पत्तियां डालकर तबतक उबालें जबतक कि यह उबलकर आधा न हो जाये, और इसके ठंडा होने के बाद इसमें एक चुटकी नमक डालकर रोजाना पिएं। इससे कमर दर्द में लंबे समय के लिए आराम मिलने लगेगा।
[9] अगर आपका दर्द नही हट रहा ओर लगातार बड रहा है तो किसी orthopedics doctor को दिखाये ओर ऐक्सरे ओर blood test करवायें क्योंकि कई बार spine मै infection or tumor या spine t.b भी हो सकती है जिसका इलाज समय पर होना बहुत जरुरी होता है |

इन सब उपायों को अपना कर आप भी कमर दर्द से कुछ निजात पा सकते है।

1 comment:

Powered by Blogger.